MR. ARUN KUMAR PASWAN

इस व्यवस्था परिवर्तन की शुरूआत हमें स्वयं से करनी है। हम बदलेंगे तो युग बदलेगा, व्यवस्था बदलेगी | अपने लक्ष्यों व उददेश्यों को प्राप्त करने के लिए तन, मन, आत्मा, धन एवं पूरी उर्जा को अभी से लगा देना है एवं कड़े संघर्ष के लिए तैयार रहना है| इस सम्पूर्ण आंदोलन से जब सभी श्रमिक पूरी तरह जागरूक व गठित हो जायेंगे तो श्रमिकों के स्थाईकरण कराने का आधार तैयार हो जायेगा | अब तक मौन होकर हम अपना शोषण कराते हुए हम अपने हक अधिकार से वंचित रहे हैं| अब उठो, जागो और अपने स्थाईकरण एवं हक अधिकार के लिए भारतीय रेलवे माल गोदाम श्रमिक संघ आन्दोलन में सहयोग करने के लिए पहल करें।

राजनैतिक दल व दलों में सम्मिलित देशभक्त व ईमानदार लोगों के अलावा हम देश क॑ सभी समाजिक, आध्यात्मिक व धार्मिक संगठनों व उनसे जुड़े जागरूक लोगों का आह्वान करते हैं कि श्रमिकों के हित व राष्ट्रनिर्माण के इस आंदोलन में आगे बढ़ने में हमारा सहयोग एवं समर्थन करने की कृपा करें | इसके लिए सबको मिलकर संघर्ष करना होगा । कुछ श्रमिक विरोधी असामाजिक तत्वों द्वारा साजिश, दुष्प्रचार कर या प्रलोभन देकर या डराकर रेलवे माल गोदाम श्रमिकों का शोषण करना चाहते हैं तथा संघ को नाकाम
करने, श्रमिकों के आवाज को दबाने व क्चलने का घृणित प्रयास कर सकते हैं। अतः ऐसे राष्ट्रविरोधी, श्रमिकविरोधी ताकतों व साजिश कर्त्ताओ से सावधान रहते हुए संगठित होकर संघ के साथ जुड़कर अपने हक अधिकार को पाना है तथा समान रूप से शिक्षा, स्वास्थ्य, न्याय, समृद्धि, समाज व राष्ट्र का निर्माण करना है तथा भ्रष्टाचार, बेरोजगारी, गन्दगी, गरीबी, भूख, अभाव व अशिक्षा आदि से मुक्त वैभवशाली भारत बनाना है |

हे श्रमिक वीर उठो, कमर कस लो, संघ का घ्वज हाथों में पकड़ लो | जो श्रमिकशग्रु हैं, राक्षस है, देशद्रोही है, उन्हें परास्त करके अपनी विजय करो । अपना हक अधिकार प्राप्त करो। जिसने गरीब ,/मजदूरों का खून
चूस-चूस कर भ्रष्टाचार शोषण व अपमान करके देश व गरीबों मजदूरों को लूटकर तथा अत्याचार के बल पर नई-नई हवेलियों व महल खड़ी करने वाले, बड़ी-बड़ी. गाड़ियों पर सैर-सपाटे करने वाले भ्रष्टाचारियों व
अपराधियों को बाहर करो |

सघन्यवाद |

आपका
अरूण कूमार पासवान
राष्ट्रीय महामंत्री